पीएसएलवी-सी 44 (PSLV-44) के जरिए माइक्रोसैट-आर व अन्य उपग्रह का प्रक्षेपण |




ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान पीएसएलवी सी 43 की उडान के दो माह के भीतर भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन ( ISRO-इसरो ) ने पीएसएलवी-सी 44 के जरिये दो उपग्रह-माइक्रोसैट-आर (Microsat-V2) का प्रक्षेपण 24 जनवरी 2019 को किया.
यह प्रक्षेपण आंध्र प्रदेश में श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन अन्तरिक्ष केंद्र से किया गया यह प्रक्षेपण इस दृष्टि से विशेष है क्योंकि पीएसएलवी के दो स्टैप ऑन मोटर परिष्क्र्त संस्करण पीएसएलवी डी-एल का इस्तेमाल इसके लिए किया गया प्रक्षेपित उपग्रहों में कलामसैट विधार्थियों के एक दल के द्वारा तैयार किया गया एक दल है इसका यह नामकरण पूर्व राष्ट्रपति एवं वैज्ञानिक डॉ. एपीजे अब्दुल कलाम के नाम पर किया गया है |

इसे विश्व का सबसे हल्का उपग्रह ‘इसरो’ ने बताया है 740 किग्रा का माइक्रोसैट-आर एक इमेजिंग उपग्रह है, जिसका उपयोग रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) द्वारा किया जायेगा पीएसएलवी-सी 44 की 24 जनवरी, 2019 की यह उडान इस लॉन्च व्हीकल की 46वीं उडान थी |

No comments