मंगोलिया के राष्ट्रपति की भारत की राजकीय यात्रा।

मंगोलिया के राष्ट्रपति की भारत की राजकीय यात्रा
संबंधित तथ्य

  • 19-23 सितंबर, 2019 के मध्य मंगोलिया के राष्ट्रपति खल्तमागीन बत्तुल्गा भारत के राजकीय दौरे पर रहे।
  • उनके साथ अधिकारियों और व्यापारियों का एक उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल भी रहा।
  • विगत 10 वर्षों में किसी मंगोलियाई राष्ट्रपति का यह पहला भारत का दौरा है।
  • 20 सितंबर, 2019 को राष्ट्रपति खाल्तमागीन बत्तुल्गा और उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू के मध्य नई दिल्ली स्थित हैदराबाद हाउस में प्रतिनिधिमंडल स्तर की वार्ता संपन्न हुई।
  • वार्ता के दौरान दोनों पक्षों ने द्विपक्षीय, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर गहन चर्चा की।
  • साथ ही बुनियादी ढांचे, ऊर्जा, आपदा प्रबंधन, रक्षा, सुरक्षा, संस्कृति और क्षमता निर्माण के क्षेत्र में चल रहे सहयोग की भी समीक्षा की।

1. इस यात्रा के दौरान दोनों देशों के मध्य हस्ताक्षरित समझौता-ज्ञापनों/दस्तावेजों की सूची इस प्रकार
2. सांस्कृतिक विनिमय प्रोटोकॉल (2019-2023)।
3. राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (भारत) और राष्ट्रीय आपातकालीन प्रबंधन एजेंसी (मंगोलिया) के मध्य आपदा प्रबंधन के क्षेत्र में समझौता-ज्ञापन।
4. अंतरिक्ष विभाग (भारत) और संचार और सूचना प्रौद्योगिकी प्राधिकरण (मंगोलिया) के मध्य अंतरिक्ष में सहयोग पर समझौता-ज्ञापन।
5. मत्स्यपालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय (भारत सरकार) और खाद्य, कृषि और प्रकाश उद्योग मंत्रालय (मंगोलिया सरकार) के बीच व्यापक कार्ययोजना।
6. गौरतलब है कि भारत और मंगोलिया के राजनयिक संबंध 24 दिसंबर, 1955 को स्थापित हुए थे।
  • समाजवादी गट के बाहर मंगोलिया के साथ राजनयिक संबंध स्थापित करने वाला भारत पहला देश था।
  • वर्ष 2015 में भारत और मंगोलिया के मध्य राजनयिक संबंधों की स्थापना की 60वीं वर्षगांठ थी।
  • इसी के उपलक्ष्य में भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मंगोलिया की यात्रा के दौरान 17 मई, 2015 को दोनों देशों ने रणनीतिक साझेदारी की घोषणा की थी। मंगोलिया को जिन वस्तुओं का निर्यात किया जाता है, उनमें मुख्य रूप से दवाएं, खनन मशीनरी एवं आटोपा आदि शामिल हैं।
  • मंगोलिया से जिन वस्तुओं का आयात किया जाता है, उनमें मुख्य रूप से कच्चा ऊन शामिल है।
23 सितंबर, 2019 के मध्य मंगोलिया के राष्ट्रपति भारत की राजकीय यात्रा पर रहे। मंगोलिया के राष्ट्रपति है

(a) खल्तमागीन बत्तुल्गा
(b) यू सेनेदंबल
(c) नल्सागिन बागाबंडी
(d) एन. इंखबयार
उत्तर-(a)