राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो के आंकड़े,2017।

राष्ट्रीय अपराध ब्यूरो के आंकड़े,2017।

संबंधित तथ्य -
  • 21 अक्टूबर, 2019 को राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े (क्राइम इन इंडिया रिपोर्ट), 2017 जारी किया गया।
  • यह रिपोर्ट गृह मंत्रालय के अंतर्गत राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो (NCRB) द्वारा जारी किया गया।
  • उल्लेखनीय है कि एनसीआरबी वर्ष में 3 रिपोर्ट जारी करता जिसमें 'क्राइम इन इंडिया' के अलावा 'दुर्घटना में मृत्यु तथा आत्महत्या' एवं 'जेल सांख्यिकी' शामिल है।
  • इस रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2017 में लगभग 50 लाख 7 हजार 44 अपराध के मामले दर्ज किए गए।
  • जिसमें से लाख 59 हजार 849 मामले महिलाओं के विरुद्ध अपराध संबंधी हैं।
  • देश में महिलाओं के विरुद्ध अपराध लगभग 6 प्रतिशत बढ़ा है।
  • वर्ष 2016 में महिलाओं के विरुद्ध अपराधों के लगभग 3 लाख 38 हजार 954 मामले दर्ज किए गए थे।
  • महिलाओं के विरुद्ध सबसे ज्यादा अपराध के 56,011 मामले उत्तर प्रदेश में दर्ज किए गए।
  • यह पूरे देश में हुए अपराधों का 15.6 प्रतिशत है।
  • इसके बाद महाराष्ट्र (31,979 मामले) एवं पश्चिम बंगाल (30,002 मामले) में महिलाओं के प्रति अपराध के मामले दर्ज किए गए।
  • महिलाओं के विरुद्ध अपराधों के अधिकांश मामलों (लगभग 27.9 प्रतिशत) को पति या उनके रिश्तेदारों द्वारा क्रूरता के तहत दर्ज किया गया था।
  • इस रिपोर्ट के अनुसार लक्षद्वीप, दमन व दीव, दादरा व नागर हवेली, जैसे केंद्रशासित प्रदेश और नगालैंड में महिलाओं के प्रति अपराध के सबसे कम मामले दर्ज किए गए इसके अनुसार गंभीर अपराधों (Grave crimes) के मामले में तमिलनाडु शीर्ष पर है। इसके बाद महाराष्ट्र का स्थान है।
  • आईपीसी अपराधों (IPC Crime) में सर्वाधिक वृद्धि दिल्ली, असम और केरल में दर्ज की गई।
  • देशभर में हत्या के मामलों में 6 प्रतिशत की गिरावट आई है।
  • वर्ष 2016 में हत्याओं की संख्या 30,450 थी और वर्ष 2017 में यह संख्या घटकर 28,653 रह गई है।
  • इस वर्ष किडनैपिंग के मामले में वर्ष 2016 की अपेक्षा 9 प्रतिशत की वृद्धि हुई। रिपोर्ट के अनुसार, देश भर में दंगों की 58,880 घटनाएं हुईं।
  • जिनमें से सबसे ज्यादा घटनाएं बिहार (11,698) में हुई। इसके बाद उत्तर प्रदेश (8,990) और महाराष्ट्र (7,743) में हुईं।
  • देशद्रोह के मामलों (राज्य के खिलाफ किए गए अपराध) में हरियाणा शीर्ष पर है। एनसीआरबी ने पहली बार अपनी रिपोर्ट में 'झूठ/नकली समाचार और अफवाहों' (False/Fake news and rumours) के प्रसार पर डेटा एकत्र किया।
  • इस श्रेणी के तहत मध्य प्रदेश (138), उत्तर प्रदेश (32) और केरल (18) से अधिकतम घटनाएं दर्ज की गईं।

प्रश्न-21 अक्टूबर, 2019 को जारी राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े के अनुसार, महिलाओं के विरुद्ध सबसे ज्यादा अपराध के मामले किस राज्य में दर्ज किए गए?
(a) बिहार
(b) मध्य प्रदेश
(c) राजस्थान
(d) उत्तर प्रदेश
उत्तर-(d)