/ / झारखंड विधानसभा चुनाव।

झारखंड विधानसभा चुनाव।

झारखंड विधानसभा चुनाव
पृष्ठभूमि
  • झारखंड विधानसभा में 81 सीटें हैं. जिसमें से 9 अनुसूचित जाति के लिए तथा 28 अनुसूचित जनजाति के लिए आरक्षित हैं।
  • झारखंड में मतदाताओं की कुल संख्या 2,26,58,948 है
  • ध्यातव्य है कि झारखंड की निवर्तमान विधानसभा का कार्यकाल 5 जनवरी, 2020 को समाप्त हो रहा है।
  • अतः भारत निर्वाचन आयोग ने भारत के संविधान के अनुच्छेद 172(1) के साथ पठित अनुच्छेद 324 और लोक प्रतिनिधित्व अधिनियम, 1951 की धारा 15 के तहत प्रदत्त प्राधिकार और शक्तियों का प्रयोग करते हुए झारखंड विधानसभा का कार्यकाल समाप्त होने से पहले उसका स्वतंत्र, न्यायसंगत और पारदर्शी निर्वाचन संपन्न कराने के उद्देश्य से चुनाव कार्यक्रम की घोषणा की।
चुनाव कार्यक्रम
  • 1 नवंबर, 2019 को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा झारखंड विधानसभा चुनाव, 2019 के कार्यक्रम की घोषणा की गई
  • चुनाव कार्यक्रम के अनुसार, राज्य में विधानसभा के चुनाव हेतु 5 चरणों यथा- 30 नवंबर, 7 दिसंबर, 12 दिसंबर, 16 दिसंबर और 20 दिसंबर, 2019 को मतदान संपन्न हुआ।
वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 23 दिसंबर, 2019 को झारखंड की 81 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव परिणाम जारी किए गए।
चुनाव परिणाम
  • झारखंड विधानसभा चुनावों में झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) सबसे बडे दल के रूप में उभरा।
  • झारखंड मुक्ति मोर्चा को 30 सीटें प्राप्त हुई।
  • वर्ष 2014 के चुनाव में झारखंड मुक्ति मोर्चा को 19 सीटें प्राप्त हुई थी।
  • वर्तमान चुनाव परिणाम में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को कुल 25 सीटें प्राप्त हुईं. जबकि वर्ष 2014 में भाजपा को 37 सीटें प्राप्त हुई थी।
झारखंड विधान सभा का चुनाव परिणाम-


प्रमुख राजनीतिक दल
प्राप्त सीट
मत प्रतिशत
झारखंड मुक्ति मोर्चा
30
18.72
भारतीय जनता पार्टी
25
33.37
इंडियन नेशनल कांग्रेस
16
13.88
झारखंड विकास मोर्चा (प्रजातांत्रिक)
3
5.45
ऑल झारखंड स्टूडेंट्स यूनियन (AJSU)
2
8.10
निर्दलीय
2
10.63










  • राज्य में झारखंड मुक्ति मोर्चा, इंडियन नेशनल कांग्रेस तथा राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने संयुक्त गठबंधन के रूप में चुनाव लड़ा था।
  • झारखंड मुक्ति मोर्चा, इंडियन नेशनल कांग्रेस तथा राष्ट्रीय जनता दल के संयुक्त गठबंधन को कुल 47 सीटें प्राप्त हुई हैं। निवर्तमान मुख्यमंत्री रघुबर दास (भाजपा) को जमशेदपुर ईस्ट सीट पर सरयु राय (निर्दलीय) से हार का सामना करना पड़ा। बहुमत प्राप्त झामुमो-कांग्रेस-राजट गठबंधन के नेता हेमंत सोरेन ने 29 दिसंबर, 2019 को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। हेमंत सोरेन ने दुमका और बरहैट दोनों सीटों से चुनाव जीता।
  • उल्लेखनीय है कि हेमंत सोरेन इससे पूर्व जुलाई, 2013 से दिसंबर, 2014 तक झारखंड के मुख्यमंत्री पद को सुशोभित कर चुके हैं।