सुरक्षा परिषद के नये अस्थायी सदस्य
सुरक्षा परिषद
  • संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद संयुक्त राष्ट्र के 6 प्रमुख अंगों में से एक है. जिसका उत्तरदायित्व अंतरराष्ट्रीय शांति और सुरक्षा को बनाए रखना है।
  • सुरक्षा परिषद में 15 सदस्य होते हैं जिनमें 5 स्थायी तथा 10 अस्थायी सदस्य होते है।
  • स्थायी सदस्यों में चीन, फ्रांस, रूस. यूनाइटेड किंगउम तथा संयुक्त राज्य अमेरिका है तथा शेष 10 सदस्य क्षेत्रीय आधार के अनुसार दो वर्ष की अवधि के लिए महासभा द्वारा चुने जाते हैं।

वर्तमान परिप्रेक्ष्य
  • 1 जनवरी, 2020 से एस्टोनिया, नाइजर, ट्यूनीशिया, वियतनाम और सेंट विंसेंट एंउ द ग्रेनाडाइंस संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पांच नए अस्थायी सदस्य हैं।
  • सुरक्षा परिषद की अस्थायी सदस्यता के लिए इनका चुनाव 7 जून, 2019 को संयुक्त राष्ट्र महासभा के 73वें सत्र में किया गया।
  • इसमें नाइजर, ट्यूनीशिया तथा वियतनाम निर्विरोध रूप से सुरक्षा परिषद हेतु चुने गए हैं।
  • इनकी दो वर्ष की अस्थायी सदस्यता 1 जनवरी, 2020 से प्रभावी हो गई तथा 31 दिसंबर, 2021 तक ये परिषट के सदस्य रहेंगे।
  • सुरक्षा परिषद में नवनिर्वाचित देशों ने आइवरी कोस्ट, इक्वेटोरियल गिनी, कुवैत, पोलैंज व पेरू का स्थान लिया, जिनकी दो वर्षीय सदस्यता 31 दिसंबर, 2019 को समाप्त हो गई।

अन्य 5 अस्थायी सदस्य
  • उपर्युक्त पांच देशों के अतिरिक्त वर्तमान में सुरक्षा परिषट के पांच अन्य अस्थायी सदस्य जर्मनी, बेल्जियम, द. अफ्रीका, डोमिनिकन गणराज्य व इंडोनेशिया है।
  • इन पांचों देशों की दो वर्षीय सदस्यता 1 जनवरी, 2019 से शुरू हुई थी तथा यह पांचों देश 31 दिसंबर, 2020 तक सुरक्षा परिषद के सदस्य रहेंगे।
Previous Post Next Post