भारत में ई-कॉमर्स पर बाजार अध्ययन

  • 8 जनवरी, 2020 को भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग' (CCI) द्वारा 'भारत में ई-कॉमर्स पर बाजार अध्ययन : महत्वपूर्ण निष्कर्ष एवं अवलोकन' (Market Study on E-Commerce In India : Key _Findings and Observations) रिपोर्ट जारी की गई।
  • भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग द्वारा भारत में ई-कॉमर्स पर बाजार अध्ययन की शुरुआत अप्रैल, 2019 में की गई थी, जिसका उद्देश्य देश में ई-कॉमर्स की कार्यपद्धति के साथ-साथ बाजारों एवं प्रतिस्पर्धा हेतु इसके निहितार्थों को समझना था।
  • रिपोर्ट के अनुसार, भारत में ई-कॉमर्स क्षेत्र से मिलने वाला राजस्व जो वर्ष 2017 में 39 बिलियन डॉलर था, बढ़कर वर्ष 2020 में 120 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है।
  • देश में इस क्षेत्र की वार्षिक वृद्धि दर 51 प्रतिशत है. जो विश्व में सर्वाधिक हैं।
  • भारत में मोबाइल फोन ग्राहकों की संख्या जो मार्च, 2014 तक 904.51 मिलियन थी बढकर सितंबर, 2019 तक 1173.75 मिलियन हो गई।
  • भारत में इंटरनेट उपयोगकर्ताओं की संख्या जो वर्ष 2017 में 445.96 मिलियन थी, बढ़कर वर्ष 2019 में 665.31 मिलियन हो गई और वर्ष 2021 तक इसके बढ़कर 829 मिलियन हो जाने की संभावना है।
  • रिपोर्ट में यूनिडो (UNDO) द्वारा जारी आंकड़ों को भी पेश किया गया है, जिसके अनुसार, भारत में विनिर्माण उत्पादन (Manufacturing Output) का लगभग आधा (45%) सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों' (MSMEs) से आता है, जबकि ऑनलाइन बिक्री में सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्यमों की भागीदारी 43 प्रतिशत है।
Previous Post Next Post