क्या है राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR)
  • राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) नागरिकता कानून (1955) व नागरिकता नियम, 2003 के तहत् तैयार किया जाने वाला ऐसा ‘डाटाबेस' है, जिसमें देश के प्रत्येक 'सामान्य निवासी' का ब्यौरा समाहित किया जाता है, 'सामान्य निवासी वह व्यक्ति है, जो कम-से-कम छह माह या उससे अधिक समय से स्थानीय क्षेत्र में निवास कर रहा है या वह अगले छह महीने या उससे अधिक समय तक निवास करने का इरादा रखता है, सभी सामान्य निवासियों की जनसांख्यिकीय व कुछ अन्य विशेष जानकारियों का समावेश देश के रजिस्ट्रार जनरल व जनगणना आयुक्त के तत्वावधान में तैयार किए जाने वाले इस रजिस्टर में किया जाना है, 2021 की जनगणना के तहत् एनपीआर सम्बन्धी कार्य असम को छोड़कर सभी राज्यों व केन्द्रशासित क्षेत्रों में होना है /नागरिकता संशोधन अधिनियम (CAA) के पारित होने के पश्चात् पैदा हुए विवाद के बीच प. बंगाल व केरल ने एनपीआर पर कार्य फिलहाल रोक दिया है। एनपीआर में पंजीकरण पूर्णतः स्व घोषणा पर आधारित है तथा इसके लिए किसी दस्तावेज, प्रमाण या बायोमेट्रिक की आवश्यकता नहीं होगी। 
नागरिकता कानून, 1955 (Citizenship Act, 1955) व नागरिकता नियम (Citizenship Rules), 2003 के तहत् राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (NPR) पहली बार 2010 में तैयार किया गया था तथा आधार से सम्बद्ध किए जाने के पश्चात् इसका अद्यतन 2015 में किया गया था. राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर का ताजा अद्यतन 2021 की जनगणना ऑकड़ों के आधार पर किया जाएगा,

Post a Comment

Previous Post Next Post