बैक्टीरिया और साएनोबैक्टीरिया में अंतर | Differences between Bacteria and Cyanobacteria

बैक्टीरिया व साएनोबैक्टीरिया में अंतर

जगत् मोनेरा जिसके अंतर्गत सभी जीवाणु (बैक्टीरिया), नील हरित शैवाल (सायनोबैक्टीरिया) आते हैं और जगत् प्रोटोक्टिस्टा जिसके अंतर्गत प्रोटोजोआ, डायटम और कुछ शैवाल आते हैं एक प्रकार से जीव जगत् में सबसे सरल हैं। सभी जीवाणु और अधिकांश प्रोटोक्टिस्टा और कई कवक-सूक्ष्मदर्शी होते हैं और इसीलिए इन्हें सामान्यतः सूक्ष्मजीव कहते हैं।

बैक्टीरिया व साएनोबैक्टीरिया में अंतर

बैक्टीरिया

साएनोबैक्टीरिया

छोटी कोशिकाएँ

अपेक्षाकृत बड़ी कोशिकाएँ

कशाभ हो सकते हैं

कशाभ नहीं होते हैं

कुछ बैक्टीरिया (हरे बैक्टीरिया) में प्रकाश संश्लेक्षण एक अलग प्रकार से होता है जिसमें ऑक्सीजन बाहर नहीं निकलती है।

हरे पौधों की भाँति प्रकाश संश्लेषण होता है व सामान्य तरीके से ऑक्सीजन निकलती है।

लैंगिक जनन संयुग्मन द्वारा

संयुग्मन नहीं देखा गया।


Differences-between-Bacteria-and-Cyanobacteria

Post a Comment

Post a Comment (0)

Previous Post Next Post